बंधुआ मजदूर का यथार्थ

पेड़। पेड़ के सहारे ईंटों को सटाकर बनी चाहरदीवारी पर सरकडंे की कुछ खुली कुछ बंद छत। जिसमें सभी ऋतुओं…

भारतीयता की प्रतीक हिन्दी

देश में अंग्रेजी हटाओ के नाम पर कई बार बड़े आंदोलन खड़े किये गये हैं। परंतु जैसे-जैसे यह मानसिकता प्रचार…

राष्ट्रगान का सच

देश बनने और होने के लिए राष्ट्रगान का होना भी जरूरी है। हम भारतीयों क¢ लिए यह सौभाग्य का सबब…

हिन्दी फिल्मों का सच

मनोरंजन के सस्ते लोकप्रिय साधन के रूप में स्थापित हिन्दी फिल्मों ने गत दशक हमारे समाज को एक ऐसा भौतिकवादी…

सर मुड़ाने का दर्द

अभी हाल के दिनों में मेरी दादी अनन्त यात्रा पर चली गयीं। पूरे एक शतक तक उनकी आंखें, उनकी काया…

जियालाल का फलसफा

कामरेड जियालाल पांडेय मेरे पुराने मित्र हैं। इस शहर के आला अफसर हैं। फुरसत में खूब शराब पीते हैं। छक…

बच्चों का कितना सेफ कर पाया ‘यूनिसेफ’

बच्चे राष्ट्र के भविष्य हैं। इनकी स्थिति देश की गति और समृद्धि का प्रतीक होती है। इसी सिद्धांत को दृष्टि…

जरूरत है मजदूर आंदोलन को नए सिरे से समझने की

01 मई 1886 की शिकागो घटना को समाप्त हुए एक शताब्दी से अधिक हो रहा है। इस बीच पूरी विश्व…

कांग्रेसी झण्डागीत और पार्षद जी

कांग्रेस अधिवेशन की बात चलते ही 1925 से बराबर सभी अधिवेशनों में गाया जाने वाला झण्डागीत के रचयिता का नाम…