राजीव कुमार होंगे RERA के चेयरमैन, रिटायर होते ही मिला तोहफा

राजीव कुमार होंगे RERA के चेयरमैन, रिटायर होते ही मिला तोहफा

लखनऊ। प्रदेश सरकार ने आज ही सेवानिवृत्त हुए मुख्य सचिव राजीव कुमार के लिए नई कुर्सी का बंदोबस्त कर लिया है। सब कुछ ठीकठाक रहा तो राजीव कुमार रियल इस्टेट रेगुलेटरी अथार्टी (रेरा) के चेयरमैन बनाये जाएंगे।
उन्हें इस पद से नवाजे जाने के लिए ही बीते २५ जून को रेरा के चेयरमैन और सदस्यों की नियुक्ति के बाबत तीसरी बार विज्ञापन जारी किया गया। इसी पद पर कभी अपनी दावेदारी जताने वाले राज प्रताप सिंह, कृषि उत्पादन आयुक्त के पद से सेवानिवृत्त, को विद्युत नियामक आयोग में जगह दी गई। उन्हें इस आयोग का चेयरमैन बना दिया गया।

पिछली कैबिनेट की बैठक राजीव कुमार के लिए बतौर मुख्य सचिव अंतिम बैठक थी। सूत्रों की मानें तो बैठक में राजीव कुमार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यह आश्वस्त किया कि राज्य सरकार उनकी सेवाएं लेगी। गौरतलब है कि रेरा के चेयरमैन और सदस्य के पदों पर चयन हेतु पहला विज्ञापन अखिलेश यादव की सरकार में निकला था।
योगी आदित्यनाथ की सरकार आते ही उसे निरस्त कर दिया गया। नया विज्ञापन आया। इस विज्ञापन में अध्यक्ष पद के लिए तकरीबन १३-१४ आवेदन आये। लेकिन बीते २५ जून को इस बाबत एक नया विज्ञापन जारी हुआ जिसमें पुराने जिन लोगों ने आवेदन पत्र दे रखे हैं उनके अलावा और भी जो लोग चाहे वो आवेदन कर सकते हैं।
इस विज्ञापन के बाद राजीव कुमार समेत तीन लोगों ने आवेदन किया। इसकी चयन समिति में प्रमुख सचिव न्याय, प्रमुख सचिव आवास और चीफ जस्टिस होते हैं। रेरा एक बहुत पावर फुल अथारिटी है जिसके तहत प्रदेशभर के सारे बिल्डर, सारे विकास प्राधिकरण आते हैं।