आभासी दुनिया के शिकंजे में लोस चुनाव 2019Articles

आभासी दुनिया के शिकंजे में लोस चुनाव 2019

गंदा है पर धंधा है। यह बात इन दिनों सोशल मीडिया यानी वर्चुअल वर्ल्ड में लड़े जा रहे चुनाव में…

आखिर कब चुनाव आयोग के खाने के दांत होंगेArticles

आखिर कब चुनाव आयोग के खाने के दांत होंगे

देश लोकतंत्र का उत्सव मना रहा है। यह जन पर्व पांच साल के लिए भारत का भाग्य लिखता है। आयोग…

सुन बाबा सुन, राजनीति में कितनी धुनArticles

सुन बाबा सुन, राजनीति में कितनी धुन

जब नगीचे चुनाव आवत है।भात मांगव पुलाव आवत है।रफीक शादानी की कविता की ये लाइनें लोकसभा चुनाव के दो माह…

सपा बसपा गठबंधन की डोर हैं ममताNews

सपा बसपा गठबंधन की डोर हैं ममता

कभी धुर राजनीतिक विरोधी रहे सपा और बसपा का करीब आना राजनीति का चमत्कार ही कहा जाएगा इस चमत्कार का…

ये है दो कदम पीछे हटनाNews

ये है दो कदम पीछे हटना

अगले लोकसभा चुनाव के लिए सपा और बसपा के बीच 38-38 सीटों का बंटवारा भले ही हो गया हो। परन्तु…

गठबंधन शह से कर सकता है भाजपा को परेशानArticles

गठबंधन शह से कर सकता है भाजपा को परेशान

  दुश्मन का दुश्मन दोस्त होता है। राजनीति में स्थाई शत्रु और स्थाई मित्र नहीं होते। 12 जनवरी, 2019 को…

SP-BSP बराबरी पर छूटने वाला नहीं गठबंधन का फार्मूलाNews

SP-BSP बराबरी पर छूटने वाला नहीं गठबंधन का फार्मूला

बसपा सुप्रीमो मायावती और सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के बीच भले ही गठबंधन हो गया हो। दोनो ने…

राहुल गांधी का लोकतंत्रArticles

राहुल गांधी का लोकतंत्र

थोड़ा अटपटा लग सकता है। राहुल का लोकतंत्र क्यों होना चाहिए? लोकतंत्र तो देश का होना चाहिए। देश का ही…

रामनाम की सवारी आसान, पर उतरायी कठिनArticles

रामनाम की सवारी आसान, पर उतरायी कठिन

अयोध्या एक बार फिर अपना इतिहास दोहरा रही है। एक बार फिर 90 के दशक और 1992 की यादें ताजा…